Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection




कैसे कहु के दिलको तुम्हारी आरजू नही

कैसे कहु के दिलको तुम्हारी आरजू नही ,
मगर ये और बात है के, मेरी किस्मत में तुम नहीं..


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RJShayari © 2015