Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection



2 Lines Dard Shayari – दर्द कितना है बता नहीं सकता

दर्द कितना है बता नहीं सकता
ज़ख्म कितने हैं दिखा नहीं सकता
आँखों से समझ सको तो समझ लो
आंसू गिरे हैं कितने गिना नहीं सकता।





Leave a Reply



RJShayari © 2015