Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection




2 Lines Dharmik Shayari – मेरी हैसियत से ज्यादा मेरे थाली में

मेरी हैसियत से ज्यादा मेरे थाली में तूने परोसा है,
तु लाख मुश्किलें भी दे दे मालिक, मुझे तुझपे भरोसा है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RJShayari © 2015