Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection



2 Lines Hichki Shayari – आज क्यों हिचकियां आईं दिले-नाशाद मुझे

आज क्यों हिचकियां आईं दिले-नाशाद मुझे
शायद उस शोख़ ने भूले से किया याद मुझे





Leave a Reply



RJShayari © 2015