Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection




2 Lines Rishte Shayari – छुपे-छुपे से रहते हैं सरेआम नही हुआ करते

छुपे-छुपे से रहते हैं सरेआम नही हुआ करते,
कुछ रिश्ते बस एहसास होते हैं उनके नाम नहीं हुआ करते।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RJShayari © 2015