Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection




Mir Taqi Mir Ghazal Shayari Hindi – Jo Tu Hi Sanam Se Bezar Hoga

जो तू ही सनम हम से बेज़ार होगा
तो जीना हमें अपना दुशवार होगा

ग़म-ए-हिज्र रखेगा बेताब दिल को
हमें कुढ़ते-कुढ़ते कुछ आज़ार होगा

जो अफ़्रात-ए-उल्फ़त है ऐसा तो आशिक़
कोई दिन में बरसों का बिमार होगा

उचटती मुलाक़ात कब तक रहेगी
कभू तो तह-ए-दिल से भी यार होगा

तुझे देख कर लग गया दिल न जाना
के इस संगदिल से हमें प्यार होगा

-Mir Taqi Mir


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RJShayari © 2015