Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection

Loading...

2 lines vakt shayari

2 Lines Vakt Shayari – ये जो वक़्त हे ना वो किसी के लिये भी

ये जो वक़्त हे ना वो किसी के लिये भी नही रूकता हे..
चलो हम ही एक दूसरे मे पल-दो पल गुज़ार लेते हे..


Advertisements

Loading...

2 Lines Vakt Shayari – वक़्त कभी एक सा रहता नहीं सुन लो साहेब

Sponsored Content

वक़्त कभी एक सा रहता नहीं सुन लो साहेब,
खुद भी रो पड़ते है औरो को रुलाने वाले……..!!


Advertisements

Loading...

2 Lines Vakt Shayari – वक्त से लड़कर जो नसीब बदल दे

वक्त से लड़कर जो नसीब बदल दे .
इन्सान वही जो अपनी तक़दीर बदल दे …
कल क्या होगा कभी मत सोचो …
क्या पता कल वक्त खुद अपनी तस्वीर बदल दे

loading...
RJShayari © 2015