Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection




Tag: dard bhari shayri for gf

दिए हैं ज़ख़्म तो मरहम का तकल्लुफ न करो



दिए हैं ज़ख़्म तो मरहम का तकल्लुफ न करो….
कुछ तो रहने दो, मुझ पे एहसान अपना….

कल रात चाँद बिकुल उनके जैसा था



कल रात चाँद बिकुल उनके जैसा था
वही नूर….. वही गरूर……वही सरूर,
वही उनकी तरह…… हमसे कोसो दूर ।।।



मुझे मालूम था के लौट के अकेले ही आना है



मुझे मालूम था के लौट के अकेले ही आना है ,
फिर भी तेरे साथ चार कदम चलना अच्छा लगा !!

जिक्र तेरा हुआ तो हम महफ़िल छोड़ आये

जिक्र तेरा हुआ तो हम महफ़िल छोड़ आये,,,
हमें गैरों के लबों पे तेरा नाम
अच्छा नहीं लगता….

RJShayari © 2015