Hindi Shayari - Poetry In Hindi

Best Hindi Sher O Shayari And Ghazal Collection

dharmik shayari 4 lines

Dharmik Shayari In Hindi – कौन कहता है कि मेरा ‘शिव’ प्यार नहीं करता

कौन कहता है कि मेरा ‘शिव’ प्यार नहीं करता…
प्यार तो करता है मगर प्यार का इजहार नहीं करता…
मैनें देखा है दर पे माँगनें वालों को…
मेरा ‘शिव’ देने से इनकार नहीं करता….
भगवान शिव की जय


Advertisements

loading...

Dharmik Shayari In Hindi – Shree Sainath Ke Naam Ne Mujhe Deewana

Shree Sainath Ke Naam Ne Mujhe Deewana Bana Diya
Aansu Bhari In Do Aankhon Ko Hasna Sikha Diya
Jab Se Lagi Lagan Tere Naam Ki O Sai
Duniya Lagne Lagi Paraai, Tune Apna Bana Liya!


Advertisements

loading...

Dharmik Shayari In Hindi – Uske Dar Pe Sukun Milta Hai

Sponsored Content

Uske Dar Pe Sukun Milta Hai,
Uski Ibaadat Se Noor Milta Hai,

Jo Jhuk Gaya ‘Bhole’ Ke Darbar Me,
Use Kuchh Na Kuchh’Zaroor’Milta He,

Jai Jai Bholenath….

Dharmik Shayari In Hindi – ना गिनकर देता है ना तोलकर देता है

ना गिनकर देता है,
ना तोलकर देता है,
जब भी मेरा ‘श्याम’ देता है,
दिल खोल कर देता है।…..

जै श्री राधे कृष्ण!!!!!!!!!!


Advertisements

loading...

Dharmik Shayari In Hindi – खाटु श्याम की महफिल को श्याम बाबा सजाते

खाटु श्याम की महफिल को श्याम बाबा सजाते है
आते हैं वो ही जिनको मेरे बाबा बुलाते हैं
जिनका भरी दुनिया में कोई भी नहीं
उनको भी ” बाबा श्याम ” सीने से लगाते हैं

Dharmik Shayari In Hindi – गम में हूँ या हूँ शाद मुझे खुद पता नहीं

गम में हूँ या हूँ शाद मुझे खुद पता नहीं,
खुद को भी हूँ मैं याद मुझे खुद पता नहीं,
मैं तुझ को चाहता हूँ मग़र मांगता नहीं,
मौला मेरी मुराद मुझे खुद पता नहीं
-Kumar Vishwas


Advertisements

loading...
loading...
RJShayari © 2015