मेरे बस मे नहीं अब हाल-ए-दिल बयां करना

मेरे बस मे नहीं अब हाल-ए-दिल बयां करना,
बस ये समझ लो, लफ़्ज़ कम मोहब्बत ज्यादा हैं !!




Leave a Reply