2 Lines Inspirational Shayari – हाथ की लकीरें भी कितनी अजीब हैं

हाथ की लकीरें भी कितनी अजीब हैं,
हाथ के अन्दर हैं पर काबू से बाहर…




One comment

Leave a Reply