2 Lines Shayari – मौत शायद इसी को कहते है

मौत शायद इसी को कहते है,
दिल अब किसी कि ख्वाहिश नहीं करता..!!




Leave a Reply