Aankh Shayari – तरस गयी है तुम्हे देखने को ये आँखें

तरस गयी है तुम्हे देखने को ये आँखें..!!
थकी-थकी है, पर पलकें उठाये बैठे है..!!




Leave a Reply