Best 2 Lines Sher O Shayari – निग़ाहों में अभी तक दूसरा कोई

निग़ाहों में अभी तक दूसरा कोई चेहरा ही नहीं आया.. !!

भरोसा ही कुछ ऐसा था,तेरे लौट आने का…!!




Leave a Reply