Dard Shayari 2 Line Mein – दर्द तो अकेले ही सहते हैं

दर्द तो अकेले ही सहते हैं सभी.
भीड़ तो बस फ़र्ज़ अदा करती है




Dil Shayari 2 Line Mein – फ़िक्र नहीं हमें की तुम दिल

फ़िक्र नहीं हमें की तुम दिल तोड़ दो ..!
फ़िक्र है हमें की कहीं तुम्हें इश्क न हो जाये ..!




Dil Shayari 2 Line Mein – ना कर जिद अपनी हद में

ना कर जिद, अपनी हद में रह, ए दिल…!!!
वो बड़े लोग हैं, अपनी मर्ज़ी से याद करते है




Dil Shayari 2 Line Mein – सोचता हूँ इस दिल मे एक

सोचता हूँ इस दिल मे एक कब्रिस्तान बना लूँ ,
सारे ख्वाब मर रहे हैँ एक एक करके..!!

Dil Shayari 2 Line Mein – काफ़ी है मेरे दिल कि तसल्ली

काफ़ी है मेरे दिल कि तसल्ली को यही बात।।
आप आ न सके आप का पैग़ाम तो आया।।




Dil Shayari 2 Line Mein – खुद को मेरे दिल में ही

खुद को मेरे दिल में ही छोड़ गए हो.!!
तुम्हे तो ठीक से बिछड़ना भी नहीं आता..!!