Miss You Sher O Shayari – ये जो चंद फुर्सत के लम्हे मिलते हैं

ये जो चंद फुर्सत के लम्हे मिलते हैं जीने के लिए,
मैं उन्हें भी तुम्हे सोचते हुए ही खर्च कर देता हूँ!!




Leave a Reply