Mohabbat Shayari – अगर मोहब्बत गुनाह है

अगर मोहब्बत गुनाह है..!
तो समजो मैंने तो हद कर दी..!




Leave a Reply