Sad Sher O Shayari 2 Lines – बोलने का हक़ छीना जा सकता है

बोलने का हक़ छीना जा सकता है
मगर ख़ामोशी का नही।।।




Leave a Reply